यीशु मसीह कौण हे?



ਗੁਰਮੁਖੀ

प्रश्न: यीशु मसीह कौण हे?

उत्तर:
“क्या परमेश्वर दी मजुदगी हे?” हिन् प्रश्न दे विपरीत बड़े कम लोग ए प्रश्न कित्ते ने कि क्या यीशु मसीह दा कोई मजुदगी हई ए साधारण रूप वेच स्वीकार कित्ता वेंदे कि यीशु सच एच हेक मनुख हई जो लगभग २००० सालों पहले इस्राएल दी धरती दे उत्ते चला फिर हई। बातचीत हुन्वाले सुरु सिंदी हे जेड़े यीशु दी सही पहचान दे विषय उत्ते विचार शिंदे। लगभग हर हेक धर्म ए शिखान्दे कि यीशु हेक पैगम्बर, या हेक अच्छा शिक्षक, या हेक धार्मिक मनुख हई। समस्या ए हे कि, बाइबल साकुं ड्सेंदी हे कि यीशु आदिकाल कलों ही हेक भविष्यवक्ता, हेक अच्छे शिक्षक, या हेक धार्मिक मनुख कलों कंही ज्यादा बड दे हई।

सी एस लुईस अप्णीह किताब मेयर क्रिसचैनिटी (केवलमात्र मसीहत) एच ए लिखदे हेन, “मय इथांह करे किसी कूं वी हूं असली मुर्खता भरी ग़ाल कूं आखण कलों रोकण दी कोशिश करेंदा पियाँ जीकुं लोग अक्सर [यीशु मसीह] दे वारे एच आखदे : ‘मय यीशु कूं हेक महान नैतिक शिक्षक दे रूप एच मनण कूं तैयार हां, लेकिन मय हुंदे परमेश्वर होवण दे दावे कूं नी मनंदा। ए हेक एंझी ग़ाल हे जो साकुं नी आखणी चाहादी। हेक मनुख जो केवल हेक मनुख हई ते हीन तरह दी ग्लाहाँ आखदा हई जेंझी यीशु आखे हेक महान नैतिक शिक्षक नी हो सग्दा। ओ या ता हेक पागल आदमी होसी – हीन तरह जीवें कोई आदमी आखे कि ओ हेक पका हुवा अंडा हे – या वला ओ नरक दा सैतान हो सग्दे। तुवाकुं अपणा चुनाव करणा चाहीदा हे। या तां ए आदमी, जो परमेश्वर दा पोत्र हई ते हे, या वला कोई पागल या कोछ और हिन्दे कलों वी ज्यादा गराब आदमी। तुस्सां मुर्खता दे कित्ते हुन्कुं चोप करा सग्दे वे, हुंदे उत्ते थोक सग्दे वे ते हेक दुष्टात्मा दे रूप एच हुन्कुं मार सग्दे वे; या तुस्सां हुंदे क़दमों वेच डाहये दे हुन्कुं प्रभु ते परमेश्वर आख सग्दे वे। लेकिन साकुं कड़ी वी कृपा नाल भरी हुई मुर्खता दे नाल ए फेंसला नी घीनना चाहीदा ओ हेक महान शिक्षक हई। ओ साडे कित्ते ए विकल्प खोला काहनी छोड़ा। हुन्दी एंझी कोई मंशा काहना हई।”

हीन सांगुं, यीशु अपणेह कूं कौण होवण दा दावा कित्ते सी? बाइबल क्या आखदी हे कि ओ कौण हई? सारे कलों पहले, यहुन्ना १०:३० एच यीशु दे शब्दों दी ओर डेखो, “मय ते पिता हेक हेसे।” पहली नजर एच, ए परमेश्वर होवण दे दावे दे रूप एच नी लगता पिया। लेकिन वला वी, हुंदे शब्द उत्ते यहूदियों दे जवाब कूं डेखो, “ यहूदी हुन्कुं उत्तर डीत्ते ने, कि अच्छे कम कित्ते अस्सां तेकुं पथर काहनी म्रेंदे पे लेकिन परमेश्वर दी बुराई करण दे कारण; ते हीन सागुं कि तू मनुख सी दे अपणेह आप कूं परमेश्वर ड्सेंदी” (यहुन्ना १०:३३) । यहूदियों यीशु दे शब्द कूं परमेश्वर होवण दा दावा समझा हई। अगु आवण आली आयतों एच यीशु यहूदियों कूं सुधारण वास्ते कड़ी वी ए काहनी आखा, “मय परमेश्वर होवण दा दावा काहना कित्ता हामी।” ए संकेत ड़ेंदे कि यीशु ए ऐलान करेंदे हुवे कि, “मय ते पिता हेक हेसे” (यहुन्ना १०:३०) सच एच आखदा पिया हई कि ओ परमेश्वर हे।

यहुन्ना ८:५८ हेक ते उदाहरण हे; यीशु आखे, “मय तुवाकुं सच सच आखदा हां कि हिन्दे कलों पहले कि अब्राहम पैदा सिया हई,मय हां।” हेक वार वला, जवाब एच, यहूदी पथर उठा दे यीशु कूं मरण दी कोशिश करेंदें कि (यहुन्ना ८:५९) । यीशु अप्णीह पहचाण दे ऐलान “मय हां” आख दे डीत्ते सी ओ पुराणे नियम एच परमेश्वर दे नाम दे शीधे तौर उत्ते लागु सिंडी हई (निर्गमन ३:१४) । यहूदी वला यीशु कूं क्यों पत्थर मरणा चाहंदे हन अगर अगर ओ एन्झा कोछ काहना आखा हई जीकुं ओ परमेश्वर दी बुराई समझदे हन, अर्थात्, परमेश्वर होवण दा दावा?

यहुन्ना १:१ आखदा हे कि “वचन परमेश्वर हई।” यहुन्ना १:१४ आखदा हे “वचन शरीर एच आए” ए साफ़ संकेत ड़ेंदे कि यीशु ही शरीर रूप एच परमेश्वर हे। चेला थोमा यीशु दे सम्बन्ध एच आखदा हे कि, “हे मेढे प्रभु, हे मेढे परमेश्वर” (यहुन्ना २०:२८) । यीशु हुन्कू काहनी सही कित्ता। प्रेरित पोलुस हुंदा हीन रूप एच वर्णन करेंदे कि, “...अपणेह महान परमेश्वर ते उद्धारकर्ता यीशु मसीह” (तीतुस २:१३) । प्रेरित पतरस वी एन्झा ही आखदे कि, “... साडे परमेश्वर ते उद्धारकर्ता यीशु मसीह” (२प्त्र्स १:१) । पिता परमेश्वर वी यीशु दी असली पहचान दा गवाह हे, “लेकिन पोत्र कूं आखदे कि, ‘ हे परमेश्वर, तेरा सिहासन हमेशा हमेशा राहासी, तेडे राज्य दा राजदण्ड न्याय दा राजदण्ड हे।’” पुराने नियम दी मसीह दे कित्ते आखी गई भविष्यवाणीयाँ हुंदे ईश्वरत्व दा ऐलान करेंदी हेन कि, “क्योंकि साडे वास्ते हेक पोत्र डीत्ता गे; ते प्रभुता हुंदे कन्धे उत्ते होसी, ते हुंदा नाम अदभुत युक्ति करण आला पराक्रमी परमेश्वर, अनन्तकाल दा पिता, ते शांति दा राजकुमार रखा वेसी” (यशायाह ९:६) ।

हीन सांगुं ही, जेंझा कि सी एस लुईस दलील डेन्दा हे, कि यीशु कूं अच्छे शिक्षक दे रूप एच मनणा कोई विकल्प काहना हई। यीशु साफ़ रूप वेच ते परमेश्वर होवण दे इन्कार न कित्ते वनण आले दावों कूं कित्ता हई। अगर ओ परमेश्वर काहनी, तां वला ओ झूठा हे, ते हिन् सांगुं हेक पैगंबर; अच्छा शिक्षक, या धार्मिक मनुख काहनी। यीशु दे शब्दों दी व्याख्या दी कोशिश करेंदे हुवे, आधुनिक “विद्धान” ए दावा करेंदे कि “ असली इतिहासिक यीशु” हुन्ना नीरी सारी ग्हालों कूं काहनी आखा जिनाह कूं बाइबल एच ओ आखे। परमेश्वर दे वचन दे नाल बहस करण आले अस्सां कौण हुंदे से कि यीशु क्या आखे या क्या काहनी आखा? कीवें कोई हेक “विद्धान” जो यीशु दे डू हज़ार साल बाद आये एच एन्झा उत्तम अनुभव हुन्दी बजाये जो हुंदे नाल रहेण, जेड़े हुन्दी सेवा कित्ते ने ते खोद यीशु कलों शिक्षा गीधे ने कलों कीवें सी सग्दे कि यीशु क्या आखे या क्या काहनी आखा (यहुन्ना १४:२६)?

यीशु दी सच्ची पहचान दे उत्ते प्रश्न इतना अहम क्यों हे? हीन ग़ाल दे काया मायने हेन कि यीशु परमेश्वर हे या काहना? हिन्दा सारे कलों अहम कारण हे कि यीशु कूं हीन सांगुं परमेश्वर सिवणा हई ओ ए हे कि अगर यीशु परमेश्वर काहनी, तां हुंदा मरणा सारे संसार दे पापों दे जुर्माने दी कीमत अदा करण दे कित्ते काफी काहनी सी सग्दी हई (१ यहुन्ना २:२) । केवल परमेश्वर ही एंझे इतने वडे जुर्माने कूं भर सग्दे (रोमियों ५:८; २ कुरिन्थियों ५:२१) । यीशु कूं परमेश्वर सिवणा हई जिन्दे नाल ताकि ओ साडा कर्ज कूं अदा कर सके। यीशु कूं मनुख होवणा हई ताकि ओ मर सके। उद्धार बस यीशु मसीह एच विश्वास करण नाल ही मिलसी। यीशु दा ईश्वरत्व ही हे क्योंकि ओ ही उद्धार दा हेक मात्र रास्ता हे। यीशु दा ईश्वरत्व ही हे जिन्दे कारण ओ ए ऐलान करेंदे कि, “रास्ता ते सच्चाई ते जीवन मय ही हां। बिना मेढे कलों कोई पिता दे कले नी वन सग्दा” (यहुन्ना १४:६)



मुलतानी दे मूल पेज उत्ते वापस वनों



यीशु मसीह कौण हे?