का अनगिनत जिनगी पाए हो?



प्रश्न: का अनगिनत जिनगी पाए हो?

उत्तर:
बाइबिल अनगिनत जीवन के ओर ऐक सिधा राह बतवाल है। सबसे पहले हाम ऐ जानकारी करें । चाही की हम सब परमेशुर के विरोध मा अपराध् किहिन् है। यहि कारन कि सबै पापु किहिन हई अउर परमेशुर कि महिमा ते रहित है। (रोमियो 3:23)| हम सबै एइसन काम कइल हई जउन परमेशुर केइ नखुस कइली जेउन हमिन दंड पावे के हकदारः हाई ।काहे हमार साबे पापु एक आदि अनगिनित कल के परमेशुर के ख़िलाफ़ हेव यहि करन एक मात्र अनगिनित समय के दण्ड बहुत है। काहे ते पापु के र मजदूरी त मौत हय पर परमेसुर क बारदन हमारे परभु येशू मसहि म अनगिनत जीवन हई। (रोमियो 6:23) |

पर फेर भई येशू मशहि जे पापु रहित रहे (1पतरस 2:22) परमेसुर क़े बेटा एक मनाई बान ल हु। (यूहन्ना 1:1;14) आउर हमरा जुर्मना के देहलन अउर मौत पाइलन हउ। परमेसुर हम पे अपन पिरम कि भलाई ई रिति ते परकट करत हई। कि जबहि हम पापिन रहन| तबाही मसही हमर खतीर मरि गवा। (रोमियो 5:8) येशु मसहि सूली प मरा (यूहन्ना 19:31-42) उ दण्ड के लेहलन जेवन क़ हम लायक़ रहन (2 कुरिन्थियों 5:21)। । पवितर ससतर मुतबिक तीसरे दिन जीवतो हई गवा। (1कुरिन्थियों 15:1-4) पाप अउर मौत पर अपन जय क साबित करलन अउर जी उठा| जउन यूश मसहि के मरे हुवा म ते जी उठ करे दवरा अपन अपार दया ते हमका जीवित आसा करे खातिर नया जनम दिहिन हैय। (1 पतरस 1:3) |

बिसवास क़ दवरा हमार मसहि के रिसता मा अपना मन कै बदल लेवे चा ही -क उ कै हई । मुक्ति क़ खतिर उ क्या अउर का कइल (प्रेरीत के काम 3:19)। यहि हम उ अपन बिसवस क रखबा उ सूली पर हमर पापु क दाम देहदेलन क़े ख़ तीर हई मौत पर विसवास करके हम माफ़ी होजाइ अउर हम सरग म अनगिनित जिनगी क वादा क पवे हई। काहे ते परमेशुर संसार ते ऐसान प्रेम रखी स की अपनु एकलुता बेटवा देहि दिहिस ताकि जउन कउनउ उ पै बिस्वास करई उ नास ना होय पर अनगिनत जीवन पाइवि (यूहन्ना 3:16)। कि अगर तुई अपन मुँह ते यीशु को परभु जानि करे अंगीगर करीई अउर अपन मन ते विसवस करि कि परमेसुर वही का मरे हुएँ माँ ते जियाइस । बहूतई निष्चय उद्धार पाईं। (रोमियों 10:9)

सूली पर यीशू क काम पूरा करे पर विस्वस हेव मात्र अनगिनत जीवन का सच्चा राह हय। काहे ते विसवस ते अनुग्रहरह ते तुमहर उद्धार भअव है। अउर ई तूमहरी ओरिया से नाहीहूआ ई परमेसुर करे दान हवे ।अउर न ई करमन ते, ऐसन न होय की कउनो घमण्ड करे। (इफिसियो 2:8-9) |

यहि अपन यूश मसहि क अपन मुक्ति दाता क रूप म स्वविकर करे चा ही ते यहि पर सरल परथानाादिहदल गई है। याद रखि इ परथाना या कोनो अउर पार्थना क काहे के दवरा अपन के बचा नहीं सकत है। कहि युश् म विसवास ह जे अपन पापु से बचा सकत है। यहि परथाना उ मा अपन विस्वास क प्रकट करे अउर अपन क ख़ातिर मुक्ति का साधन प्रबन्धन करें क खतिर धन्यवाद देवे क ऐक तरिको मात्र । ह परमेशुर हम जान रहला है । क म अपन के खालिफ् पापु करहल है। अउर मा दण्ड का भागीदारीर हई। पर यीशु मसही उ दण्ड क ख़ुद पर ले लिया जेकरा लायक हम ना रहे ते उ विस्वास करे दवरा हम माफ़ी पयवे सके हइ ।मा मुक्ति क खतिर अपन आप विसवस क रखा हई । अपने क अनोखा अनुग्रहरह ते माँफि जेवन अनगिनत जीवन क उपहार हई क ख़ातिर म आप धन्यबाद करे हई । अमीन” |

जे कुछ अपन यहि पडी है कयो उ करन अपन मसहि क पीछे चले क निर्याय लिहल है? यहि इसन है त किरपा नी चे देहि हुआ “म आज क स्वविकर कर लेलाह” है। बटन क दा बीये ।



अवधी क मुख्य पेज पर वापस जाइए



का अनगिनत जिनगी पाए हो?