विक्का जादू टोना क्या है? क्या विक्का जादू टोना है?



प्रश्न: राशिफल का उद्देश्य किसी व्यक्ति के चरित्र और भविष्य की भविष्यवाणी में?

उत्तर:
विक्का या विस्का एक नव-निर्मित मूर्तिपूजक धर्म है, जो संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोप में लोकप्रियता और स्वीकृति के साथ आगे बढ़ रहा है। कई वेबसाइटें और किताबें "वास्तविक" विक्का की शिक्षा देने का दावा करती हैं, परन्तु सच्चाई तो यह है कि विक्कावादियों के मध्य में ही कोई सामान्य सहमति नहीं पाई जाती है कि यह धर्म क्या है। इसका कारण यह है कि विक्का जैसा कि अब तक अभ्यास किया गया है, केवल 50 वर्ष ही पुराना है। विक्का एक ऐसी विश्‍वास पद्धति है, जिसे 1940 और 1950 के दशकों में ब्रिटेन के जेराल्ड गार्डनर ने विभिन्न प्रकार की धार्मिक परम्पराओं और मान्यताओं को फ्रीमेसनवादियों के अनुष्ठानों को मिश्रित करके एक साथ रख दिया। क्योंकि गार्डनर ने अपनी पुस्तक को अपने द्वारा प्रस्तुत की गई आराधना पद्धितियों को प्रचलित करने के लिए प्रकाशित किया था, परिणामस्वरूप, विक्का की कई शाखाओं और विविधताओं का उदय हो गया है। कुछ विक्कावादी एक से अधिक देवताओं की पूजा करते हुए बहुदेववादी हैं, जबकि अन्य केवल एक ही "देवता" या "देवी" की पूजा करते हैं। तथापि, कई अन्य विक्कावादी प्रकृति की पूजा करते हैं और पृथ्वी को यूनानी देवी के नाम पर गिया के नाम से पुकारते हैं। कुछ विक्कावादी मसीही सिद्धान्तों के कुछ भागों को लेते हैं और इनके अंशों को अपना लेते हैं, जबकि अन्य लोग मसीही विश्‍वास को पूरी तरह से अस्वीकृत कर देते हैं। विक्कावादियों के पालनकर्ताओं में अधिकांश पुनर्जन्म में विश्‍वास करते हैं।

अधिकांश विक्कावादी पूरी दृढ़ता के साथ इन्कार करते हैं कि शैतान उनके देवताओं में से एक हैं, ऐसे वे स्वयं और शैतानवादियों के मध्य स्थित प्रमुख धर्मसैद्धान्तिक अन्तर का सन्दर्भ देते हुए करते हैं। विक्कावादी सामान्य रूप से नैतिक सापेक्षता को "अच्छे" और "बुरे" और "सही" या "गलत" जैसे प्रतीकों को तुच्छ समझते हुए बढ़ावा देते हैं। विक्कावादी के पास एक ही व्यवस्था या नियम है, जिसे रेडे कहा जाता है, जिसके अनुसार : "आप जो चाहे वही करें, जब तक किसी को कोई नुकसान नहीं पहुँचता है।" आरम्भ में उपरी सतह पर, रेडे पूरी तरह से बिना किसी परेशानी के एक व्यक्तिगत् अनुज्ञा पत्र अर्थात् लाइसेंस जैसा प्रतीत होता है। आप जो भी चाहें, वही कर सकते हैं, जब तक कि किसी को कोई भी चोट नहीं पहुँचती है; तथापि, विक्कावादी इस बात की ओर तेजी से संकेत करते हैं कि किसी की गतिविधियों के परिणामों का प्रभाव लहरों के रूप में दूरस्थ स्थान तक पहुँच सकता है। वे त्रि-सूत्री व्यवस्था में इस सिद्धान्त को स्पष्ट करते हैं, जिसमें कहा गया है, "वह सारी भलाई जो एक व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति के साथ करता है, इस जीवन में तीन-गुणा प्रतिफल को लौटाती है, नुकसान भी तीन-गुणा रूप में ही वापस लौटता है।"

एक प्रमुख तथ्य जो विक्कावाद की ओर स्थायी रूप से आकर्षक बने रहने में योगदान देता है, वह मन्त्र और जादू (अंग्रेजी में इस शब्द को गलत अक्षरों से जानबूझकर इसलिए लिखा जाता है, ताकि जादूगरों और भ्रमवादियों को विक्कावादियों से पृथक किया जा सके, का कथित प्रयोग है। जिज्ञासा आधारित खोज करने वाले साथ ही साथ आध्यात्मिक रीति से नव दीक्षित व्यक्ति इन रहस्यों में मग्न हो जाने के लिए सबसे अधिक उत्सुक होते हैं। सभी विक्कावादी जादू टोने का अभ्यास नहीं करते हैं, परन्तु जो लोग जादू टोने के अभ्यास का दावा करते हैं, उनके लिए यह ठीक वैसा ही अभ्यास है, जैसे कि एक मसीही विश्‍वासी के लिए प्रार्थना होती है। दोनों के मध्य अन्तर यह है कि विक्कावादियों का दावा यह है कि जादू टोना केवल मन को नियन्त्रित करने के लिए उपयोग किया जाता है, या वे इसके द्वारा अपने पसन्दीदा देवता को अपने पक्ष में हो जाने के लिए आग्रह करने के लिए करते हैं, जबकि मसीही विश्‍वासी एक सर्वसामर्थी, सर्वव्यापी परमेश्‍वर को लोगों को चंगा करने और उनके जीवन में हस्तक्षेप करने और कार्य करने के लिए प्रार्थना करते हैं। क्योंकि रेडे दूसरों को ठेस पहुँचाने के लिए चुड़ैलों या ओझाओं या जादू-टोनों का प्रयोग करने वालों को अनुमति प्रदान नहीं करता है और त्रि-सूत्री व्यवस्था रेडे को तोड़ने वालों के परिणामों को रूपरेखित करती है, चुड़ैलें या ओझे, जो जादू-टोने का अभ्यास करते हैं, स्वयं को "प्रकृति की चुड़ैलें" या "सफेद चुड़ैलें" के रूप में पुकारा जाना ज्यादा पसन्द करती हैं, ताकि वे स्वयं को शैतानवादियों से पृथक कर सकें।

विक्का मूल रूप से एक धर्म है, जो कि अपने काम से काम रखने और अपने पड़ोसियों और पर्यावरण के साथ शान्तिपूर्वक रहने की ओर ध्यान देने के बारे में है। विक्कावादी स्वयं को और बाइबल के मसीही विश्‍वास के मध्य समानताओं को आकर्षित करने के लिए उत्सुक रहते हैं, परन्तु इस धर्म के बारे में बाइबल क्या कहती है? आपको बाइबल में शब्द "विक्का" नहीं मिलेगा, इस कारण आइए हम उनके बारे में जो कुछ परमेश्‍वर ने कहा है, उसके प्रकाश में उनकी मान्यताओं का मूल्यांकन करें।

विक्कावादियों के मन्त्र मूर्तिपजावाद — रोमियों 1:25 कहता हैं कि, "क्योंकि उन्होंने परमेश्‍वर की सच्चाई को बदलकर झूठ बना डाला, और सृष्टि की उपासना और सेवा की, न कि उस सृजनहार की...।" यशायाह 40 में परमेश्‍वर ने इस चित्र को चित्रित किया है कि सृष्टिकर्ता उसकी सृष्टि से कितना बड़ा है। यदि आप सृष्टिकर्ता के अतिरिक्त किसी और ही की पूजा कर रहे हैं, तो आप मूर्तिपूजा के दोषी ठहरे हैं।

विक्कावादियों के मन्त्र झूठी आशा को लाते हैं। इब्रानियों 9:27 कहता है कि, "…और जैसे मनुष्यों के लिए एक बार मरना और उसके बाद न्याय का होना नियुक्त है।" परमेश्‍वर कहता है कि हमें जीवन का केवल एक ही अवसर प्राप्त हुआ है। एक और जीवन की प्राप्ति की कोई सम्भावना नहीं है। यदि हम अपने इसी जीवन में परमेश्‍वर के द्वारा प्रदत्त यीशु के उपहार को स्वीकार नहीं करते हैं, तो वह हमें उसकी उपस्थिति में न होने के लिए अनिच्छुक होते हुए न्यायसंगत ठहराता है, और हमें नरक में भेजा जाता है।

विक्कावादियों के मन्त्र भ्रम को ले आते हैं। मरकुस 7:8 कहता है कि, "क्योंकि तुम परमेश्‍वर की आज्ञा को टालकर मनुष्यों की रीतियों को मानते हो।" परमेश्‍वर ही परमेश्‍वर है, और हम नहीं हैं। हमें एक निर्णय लेने की आवश्यकता है। क्या हम ईश्‍वर पर भरोसा करेंगे और उसके ही वैश्विक दृष्टिकोणों को अपनाएँगे, या ऐसा नहीं हैं? परमेश्‍वर को जानने के लिए बहुत अधिक अनुशासन की आवश्यकता होती है। विक्कावाद बहुत-ही-अच्छी तरह से निर्मित झूठों के उद्देश्यों की प्राप्ति से भरा हुआ एक धर्म है, परन्तु यह लोगों को आसानी से उल्लू बना देता है।

व्यवस्थाविवरण 18:10-12 कहती है कि, "तुझ में कोई ऐसा न हो...भावी कहने वाला या शुभ-अशुभ मुहूर्तों का माननेवाला या टोन्हा या तान्त्रिक या बाजीगर या ओझों से पूछनेवाला या भूत साधनेवाला या भूतों का जगानेवाला हो...क्योंकि जितने ऐसे ऐसे काम करते हैं, वे सब यहोवा के सम्मुख घृणित हैं...।" विक्कावादियों का जादू-टोना पाप है, और परमेश्‍वर इस से घृणा करता है। ऐसा क्यों है? क्योंकि यह परमेश्‍वर के ऊपर हमारी निर्भरता को दूर करने और उसके अतिरिक्त कहीं ओर से उत्तर की प्राप्ति का प्रयास है।

पाप मात्र एक सामाजिक रूप से अप्रिय कार्यवाही नहीं है। पाप किसी भी विषय पर — उसके विरूद्ध विद्रोह करने के लिए परमेश्‍वर से असहमति का विषय है। पाप कह रहा है, "हे परमेश्‍वर, मैं मेरे जीवन को अपने अनुसार यापन करना चाहता हूँ।" रोमियों 3:23 कहता है कि, "क्योंकि सब ने पाप किया है और सभी परमेश्‍वर की महिमा से रहित हैं।" रोमियों 6:23 कहता है कि, "पाप की मजदूरी तो मृत्यु है...।" यह शारीरिक मृत्यु नहीं है, यह आध्यात्मिक मृत्यु है : ईश्‍वर से अनन्तकालीन और उनकी उपस्थिति से आने वाली सभी आशीषों से पृथक्क होना है। यह नरक : परमेश्‍वर की उपस्थिति के अभाव की परिभाषा है। यही कुछ है, जिसे पाप हमारे लिए प्राप्त करता है।

धन्यवाद सहित कहना कि रोमियों 6:23 यही अन्त नहीं करता है। यह आगे बोलता है कि, "...परन्तु परमेश्‍वर का वरदान हमारे प्रभु यीशु मसीह में अनन्त जीवन है।" परमेश्‍वर जानता था कि हम सभी इस या किसी अन्य तरीके से विद्रोही हो जाएँगे और उसने हमें एक पृथक मार्ग — यीशु मसीह पर विश्‍वास करने के द्वारा प्रदान किया। विक्कावाद का जादू टोना शैतान की ओर से आने वाले झूठ को छोड़ और कुछ भी नहीं है, जो कि हमारे प्राणों के शत्रु है, जो "गर्जनेवाले सिंह के समान इस खोज में रहता है कि किस को फाड़ खाए" (1 पतरस 5:8)।

English



हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए



विक्का जादू टोना क्या है? क्या विक्का जादू टोना है?