मैं कैसे निर्धारित करूँ कि कौन सी परोपकारी संस्था/संगठन/सेवकाई के लिए वित्तीय सहायता दी जानी चाहिए?


प्रश्न: मैं कैसे निर्धारित करूँ कि कौन सी परोपकारी संस्था/संगठन/सेवकाई के लिए वित्तीय सहायता दी जानी चाहिए?

उत्तर:
परोपकारी संस्थाओं के असँख्य विकल्पों के होने के कारण, एक मसीही विश्वासी कैसे बुद्धिमानी से निर्णय कर सकता है कि किसे दान देना है? कौन से सेवकाई, मिशन, संगठन, परोपकारी संस्थाएँ दान दिए जाने के लिए विचार करने योग्य हैं? सबसे अधिक सम्भावित अनन्तकालीन प्रभाव के लिए धन का कैसे निवेश किया जा सकता है? बहुत से लोग इन प्रश्नों के कारण उलझ कर रह जाते हैं। यहाँ कुछ सिद्धान्त दिए गए हैं, जिनसे निर्णयों को आसानी से लेने में थोड़ी सी सहायता मिलेगी।

किसे दान दें? - खरे उपदेश

"पर तू ऐसी बातें कहा कर जो खरे उपदेश के योग्य हैं" (तीतुस 2:1)।

क्या कोई सेवकाई/मिशन/संगठन/परोपकारी संस्था यीशु मसीह के सुसमाचार की घोषणा करता है और परमेश्वर के वचन के अधिकार को ऊँचा उठाता है? क्या जो कुछ एक निश्चित सेवकाई करती है, उसमें उसके पास महान आदेश को पूरा करने का लक्ष्य है, जो कि खोए हुए लोगों को इकट्ठा करना और विश्वासियों को यीशु मसीह के प्रति पूरी तरह से समर्पित अनुयायी बनने के लिए प्रेरित करना है (मत्ती 28:19-20; प्रेरितों के काम 1:8)? चाहे उस सेवकाई का प्राथमिक ध्यान बिन्दु लोगों की भौतिक आवश्यकताओं को पूरा करना और यीशु के हाथ और पैर ही होना क्यों न हो, क्या सभी बातों में सुसमाचार प्रथम स्थान पर रहता है?

किसे दान दें? - प्रभावशीलता और विशेषज्ञता

"पर कुछ बीज अच्छी भूमि पर गिरे, और फल लाए - कोई सौ गुना, कोई साठ गुना, और कोई तीस गुना।" (मत्ती 13:8)।

क्या उस सेवकाई का कोई प्रभाव है? क्या परोपकारी संस्था वास्तव में अपने मिशन, लक्ष्यों और उद्देश्यों को पूरा कर रही है? क्या संगठन समस्याओं को सुलझाने में विशेषज्ञता का प्रदर्शन कर रहा है? एक भीड़ से भरे हुए मैदान में, क्या सुसमाचार की सेवकाई शेष लोगों से पृथक हो कर सही अर्थ में लोगों के जीवन में भिन्नता को जन्म दे रही है?

किसे दान दें? – भण्डारीपन

"फिर यहाँ भण्डारी में यह बात देखी जाती है कि वह विश्‍वासयोग्य हो" (1 कुरिन्थियों 4:2)।

क्या एक सेवकाई अपने धन का बुद्धिमानी से उपयोग कर रही है? क्या एक सेवकाई अपने संसाधनों में जिन कार्यों में निवेश कर रही है, वे वास्तव में कोई अर्थ रखते हैं? तोड़ों के दृष्टान्त की तरह, क्या एक संगठन अपने खजाने को गाड़ तो नहीं रहा है या वह इसका निवेश परमेश्वर के राज्य में कर रहा है? क्या एक परोपकारी संस्था की वित्तीय प्राथमिकताएँ परमेश्वर के वचन की प्राथमिकताओं की रूपरेखा के अनुरूप हैं?

किसे दान दें? – जवाबदेही

"बिना सम्मति की कल्पनाएँ निष्फल हुआ करती हैं, परन्तु बहुत से मन्त्रियों की सम्मति से बात ठहरती है।" (नीतिवचन 15:22)।

क्या एक संगठन अपने वित्त और निर्णयों के बारे में पारदर्शी और ईमानदार है? क्या किसी एक व्यक्ति का तो इसमें बहुत अधिक प्रभाव नहीं है, या क्या महत्वपूर्ण निर्णयों में सम्मिलित लोगों में अच्छा सन्तुलन बना हुआ है? क्या नेतृत्व "जैसे लोहा लोहे को चमका देता है" के विचार के लिए खुले मन वाला है (नीतिवचन 27:17)? क्या परोपकारी संस्था अपनी सभी उचित वित्तीय जानकारी को पूरी तरह से उजागर करने के लिए तैयार है? क्या एक सेवकाई रचनात्मक आलोचना को सुनने के लिए तैयार है, या मिलने वाली प्रतिक्रिया को सुनना पसन्द नहीं करती है (नीतिवचन 27:6)?

किसे दान दें? – प्रार्थना

“माँगो, तो तुम्हें दिया जाएगा; ढूँढ़ो तो तुम पाओगे; खटखटाओ, तो तुम्हारे लिये खोला जाएगा” (मत्ती 7:7)।

परमेश्वर से यह ज्ञान माँगें कि वह कैसे चाहता है कि आप अपने धन को सेवकाई में निवेश करें (याकूब 1:5)। परमेश्वर से पूछें कि वह आपको उन कामों को करने के लिए जुनून दे, जिनके लिए वह चाहता है कि आप दान दें। परमेश्वर से बहुतायत के साथ यह स्पष्ट करने के लिए कहें कि आप अनन्तकालीन प्रभाव को लाने के लिए वित्तीय बलिदान कैसे कर सकते हैं।

किसे दान दें? - परमेश्वर पर भरोसा करें और दान दें

“परन्तु बात यह है : जो थोड़ा बोता है, वह थोड़ा काटेगा भी; और जो बहुत बोता है, वह बहुत काटेगा। हर एक जन जैसा मन में ठाने वैसा ही दान करे; न कुढ़ कुढ़ के और न दबाव से, क्योंकि परमेश्‍वर हर्ष से देनेवाले से प्रेम रखता है” (2 कुरिन्थियों 9:6–7)।

जबकि उपर्युक्त सिद्धान्तों को सहायता देनी चाहिए, इस प्रश्न के प्रति बाइबल आधारित कोई भी "तू यह..." करना या यह न करना वाला कथन नहीं है। हमारा विश्वास है कि, जबकि एक मसीही विश्वासी के द्वारा प्राथमिक रूप दान को उसकी स्थानीय कलीसिया में ही दिया जाना चाहिए, जिसमें वह भाग लेता है, तथापि इस विषय के प्रति बहुत अधिक स्वतन्त्रता दी गई है। क्या एक मसीही विश्वासी को बच्चों के लिए सहायता दी जाने वाले कार्यक्रम का समर्थन करना चाहिए या मानव तस्करी को समाप्त करने के लिए दान देना चाहिए? क्या एक मसीही विश्वासी को एक स्थानीय बचाव आश्रय स्थल के लिए या एक विश्वव्यापी सुसमाचार प्रचार के कार्यक्रम के लिए दान देना चाहिए? इन प्रश्नों का कोई सार्वभौमिक सही या गलत उत्तर नहीं है। यह विवेक, प्राथमिकताओं और जुनून का विषय है।

परमेश्वर से प्रार्थना करें कि वह आपको सुसमाचार सुनाने के एक कार्यक्रम की सहायता करने के लिए जुनून दे। उपरोक्त सिद्धान्तों को ध्यान में रखकर खोज करें। तत्पश्चात्, दान दें!

English
हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
मैं कैसे निर्धारित करूँ कि कौन सी परोपकारी संस्था/संगठन/सेवकाई के लिए वित्तीय सहायता दी जानी चाहिए?