व्यावहारिक धर्मविज्ञान क्या है?


प्रश्न: व्यावहारिक धर्मविज्ञान क्या है?

उत्तर:
व्यावहारिक धर्मविज्ञान, जैसा कि इसके नाम में निहित है, धर्मविज्ञान का अध्ययन इस तरह से करना है कि इसका उद्देश्य उपयोगी या जीवन में लागू करने योग्य हो। इसे कहने का एक और तरीका यह है कि यह धर्मविज्ञान का ऐसा अध्ययन है, ताकि इसका उपयोग किया जा सके और प्रतिदिन की सरोकारों के लिए प्रासंगिक हो। धर्मविज्ञान का शिक्षण देने वाली एक सेमिनरी अपने व्यावहारिक धर्मविज्ञानिक कार्यक्रम को "धर्मवैज्ञानिक अन्तर्दृष्टि के व्यावहारिक प्रयोग के लिए समर्पित" के रूप में वर्णन करती है और यह कि "इसमें सामान्य रूप से पासबानी धर्मविज्ञान, उपदेश कला, और मसीही शिक्षा के उप-विषय सम्मिलित होते हैं।" एक अन्य सेमिनरी व्यावहारिक धर्मविज्ञान का उद्देश्य लोगों को प्रभावी रूप से सेवकाई करने की शिक्षा देने के ज्ञान का अनुवाद करने के लिए विद्यार्थियों को तैयार करने में सहायता के रूप में देखती है। ऐसा करने में कलीसिया में व्यक्तिगत् और पारिवारिक जीवन के साथ-साथ प्रशासनिक और शैक्षणिक सेवकाइयाँ भी सम्मिलित हैं। वे कहती हैं कि व्यावहारिक धर्मविज्ञान का लक्ष्य पवित्रशास्त्र के प्रभावशाली संचारकों को विकसित करना है, जिनके पास सेवक की तरह अगुवे होने पर भी विश्‍वासियों के आत्मिक विकास के लिए दर्शन हो।

कुछ लोग मसीही जीवन के धर्मसिद्धान्त के लिए व्यावहारिक धर्मविज्ञान को अधिक तकनीकी नाम मानते हैं। इसका बल इस बात पर है कि पवित्रशास्त्र की सभी शिक्षाओं को इस वर्तमान संसार में आज हम जिस तरह से जीवन यापन करने हैं, उसे प्रभावित करना चाहिए। व्यावहारिक धर्मविज्ञान का बल केवल धर्मसिद्धान्तों के ऊपर ही विचार करने या उन्हें समझने मात्र के लिए नहीं अपितु प्रतिदिन के मसीही जीवन में उन सिद्धान्तों को लागू करने के लिए आगे बढ़ने के लिए है ताकि हम "संसार को वह बनाने में योगदान दें जिसकी चाहत परमेश्‍वर करता है।"

व्यावहारिक धर्मविज्ञान के कार्यक्रमों के पीछे आधार वाक्य यह है कि भविष्य के मसीही अगुवों के न केवल धर्मवैज्ञानिक ज्ञान के साथ सुसज्जित होना चाहिए अपितु आधुनिक संसार में प्रभावी तरीके से सेवक बनने के लिए आवश्यक व्यावसायिक कौशल भी होना चाहिए। अक्सर ये कार्यक्रम प्रचार कला, मसीही शिक्षा, परामर्शदान और नैदानिक कार्यक्रमों का उपयोग भविष्य के मसीही अगुवों को प्रशिक्षित और तैयार करने के लिए करते हैं।

English


हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
व्यावहारिक धर्मविज्ञान क्या है?