स्वर्ग पुराने नियम का धर्मविज्ञान क्या है?


प्रश्न: स्वर्ग पुराने नियम का धर्मविज्ञान क्या है?

उत्तर:
पुराने नियम का धर्मविज्ञान पुराने नियम में परमेश्‍वर के बारे में जो कुछ पता चलता है, उसका अध्ययन करना है। पुराने नियम के धर्मविज्ञान की व्यवस्था विभिन्न सत्यों को लेती है, जिसे पुराने नियम की पुस्तकें हमें परमेश्‍वर के बारे में सिखाती हैं, और उन्हें एक संगठित तरीके में प्रस्तुत करती हैं। उत्पत्ति 1:1 परमेश्‍वर स्वयं के प्रकाशन के साथ आरम्भ होता है: "आदि में परमेश्‍वर ने आकाश और पृथ्वी की सृष्टि की।" परमेश्‍वर और उसकी सृष्टि के काम की पूर्वकल्पना ही कुछ ऐसी है, जिसे सभी विश्‍वासियों ने विश्‍वास के द्वारा स्वीकार किया है, और जिसके ऊपर उत्पत्ति से लेकर प्रकाशितवाक्य तक पूरे पवित्रशास्त्र में जोर दिया जाता है।

पुराने नियम का धर्मविज्ञान पुराने नियम में परमेश्‍वर स्वयं के द्वारा प्रकाशित, उसके चरित्र, उसके गुण इत्यादि के बारे में जो कुछ बताया गया है, उसका एक समृद्ध और पुरस्कृत करने वाला अध्ययन है। पुराना नियम मुख्य रूप से यहूदियों के साथ परमेश्‍वर के सम्बन्ध के ऊपर ध्यान केन्द्रित करता है, जो कि उत्पत्ति 12 में अब्राहम के बुलाए जाने से आरम्भ हुआ। उसने इस्राएल को चुना और अपने सन्देश को संसार को देने और अन्त में मसीह को हमारे पाप से बचाने के लिए ले आने के उद्देश्य से वाचा बाँधी। यहूदियों के साथ अपने सम्बन्ध के द्वारा, परमेश्‍वर ने पूरे संसार को आशीष दी (उत्पत्ति 12:3)। पुराने नियम ने स्वयं के लिए चुने हुए लोगों को विशेष रूप से परमेश्‍वर के प्रगतिशील प्रकाशन का इतिहास दिया, अपितु यहूदी विरासत वाले लोगों के लिए भी, ताकि हम जान सकें कि वह कौन है, और संसार के लिए उसकी योजना क्या है। पुराने नियम के केन्द्र बिन्दु में परमेश्‍वर और मनुष्य के मध्य वाचा के एक सम्बन्ध के होने के ऊपर विचार को बुना गया है: पहली तत्पश्‍चात् अन्य वाचाएँ आदम और अन्य नूह, अब्राहम, इस्राएली जाति और दाऊद के साथ बाँधी गईं थीं।

पुराने नियम का धर्मविज्ञान इस संसार में परमेश्‍वर और उसके उद्देश्यों के प्रति हमारी समझ के लिए मूलभूत है। वैकल्पिक प्रायश्‍चित, उद्धार, चुने जाना, पवित्रता, दया, न्याय, और क्षमा के धर्मसिद्धान्तों के बीज पुराने नियम में पाए जाते हैं। पुराने नियम के धर्मविज्ञान के अध्ययन में अन्य महत्वपूर्ण विषयों के मध्य, उचित धर्मविज्ञान, मानव विज्ञान और युगान्तविज्ञान इत्यादि पाए जाते हैं।

English


हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
स्वर्ग पुराने नियम का धर्मविज्ञान क्या है?