नया यरूशलेम क्या है?


प्रश्न: नया यरूशलेम क्या है?

उत्तर:
नया यरूशलेम, जिसे परमेश्‍वर का तम्बू, पवित्र नगर, परमेश्‍वर का नगर, प्रतापी नगर, स्थिर नींव वाला नगर, चार कोने वाला नगर और स्वर्गीय यरूशलेम भी कहा जाता है, यह पृथ्वी पर शाब्दिक स्वर्ग है। इसे बाइबल में कई स्थानों पर सन्दर्भित किया जाता है (गलातियों 4:26; इब्रानियों 11:10; 12:22-24; 13:14), परन्तु यह प्रकाशितवाक्य 21 में पूरी तरह से वर्णित है।

प्रकाशितवाक्य 21 में, मनुष्य का लिपिबद्ध इतिहास अन्त में है। सारे युग आए और चले गए हैं। मसीह ने अपने कलीसिया को मेघारोहण में इकट्ठा कर लिया है (1 थिस्सलुनीकियों 4:15-17)। महाक्लेश समाप्त हो गया है (प्रकाशितवाक्य 6-18)। हर-मगिदोन के युद्ध को लड़ा जा चुका है और हमारे प्रभु यीशु मसीह ने जय पाई है (प्रकाशितवाक्य 19:17-21)। पृथ्वी के ऊपर मसीह के 1,000 वर्षों के शासन के लिए शैतान को जंजीरों से बांध दिया गया है (प्रकाशितवाक्य 20:1-3)। यरूशलेम में एक नया, महिमामयी मन्दिर स्थापित किया गया है (यहेजकेल 40-48)। परमेश्‍वर के विरूद्ध अन्तिम विद्रोह निरस्त हो गया है, और शैतान को उसका दण्ड, आग की झील में अनन्त काल, सुना दिया गया है (प्रकाशितवाक्य 20:7-10।) महान श्वेत सिंहासन का न्याय पूरा हो चुका है, और मानव जाति का न्याय किया जा चुका है (प्रकाशितवाक्य 20:11-15)।

प्रकाशितवाक्य 21:1 में परमेश्‍वर स्वर्ग और पृथ्वी के कार्य को पूरा करता है (यशायाह 65:17; 2 पतरस 3:12-13)। नया स्वर्ग और नई पृथ्वी कुछ ऐसी है, जिसे कुछ लोग "शाश्‍वत अवस्था" कहते हैं और "जहाँ धार्मिकता वास करती है" (2 पतरस 3:13)। पुनः-निर्माण के पश्‍चात्, परमेश्‍वर नए यरूशलेम को प्रगट करता है। यूहन्ना अपने दर्शन में इसकी एक झलक को देखता है: "फिर मैं ने पवित्र नगर नये यरूशलेम को स्वर्ग से परमेश्‍वर के पास से उतरते देखा। वह उस दुल्हिन के समान थी जो अपने पति के लिये सिंगार किए हो" (प्रकाशितवाक्य 21:2)। यह वही नगर है, जिसे अब्राहम ने विश्‍वास में देखा था (इब्रानियों 11:10)। यह वही स्थान है, जिस में परमेश्‍वर सदैव के लिए अपने लोगों के साथ रहेगा (प्रकाशितवाक्य 21:3)। इस अलौकिक शहर के निवासियों के सभी आँसू मिटा दिए जाएंगे (प्रकाशितवाक्य 21:4)।

नया यरूशलेम अपने वैभवपूर्ण रूप से विशाल होगा। यूहन्ना लिपिबद्ध करता है कि नगर लगभग 1,400 मील लम्बा, और यह उतना ही चौड़ा और उतना ही ऊँचा है, जितना कि लम्बा है – अर्थात् यह एक पूर्ण वर्गाकार की तरह है (प्रकाशितवाक्य 21:15-17)। नगर हर तरह से चकाचौंध में डाल देने वाला होगा। यह परमेश्‍वर की महिमा से प्रकाश पाता है (प्रकाशितवाक्य 21:23)। बारह प्रेरितों के नामों के साथ इसकी बारह नींवें हैं जो, "हर प्रकार के बहुमूल्य पत्थरों से सँवारी हुई थीं" (प्रकाशितवाक्य 21:19-20)। इसमें बारह फाटक हैं, प्रत्येक एक मोती है, जिसमें इस्राएल के बारह गोत्रों के नाम हैं (प्रकाशितवाक्य 21:12, 21)। इसकी सड़क शुद्ध सोने से बनी हुई होंगी (प्रकाशितवाक्य 21:21)।

नया यरूशलेम अकल्पनीय आशीष का स्थान होगा। पुरानी पृथ्वी का अभिशाप चला जाएगा (प्रकाशितवाक्य 22:3)। नगर में "जातियों के चंगा होने के लिए" जीवन का वृक्ष और जीवन की नदी (प्रकाशितवाक्य 22:1-2) है। यही वह स्थान है, जिसके लिए पौलुस ने कहा था: "कि वह [परमेश्‍वर] अपनी उस कृपा से जो मसीह यीशु में हम पर है, आनेवाले समयों में अपने अनुग्रह का असीम धन दिखाए" (इफिसियों 2:7)। नया यरूशलेम परमेश्‍वर की सभी प्रतिज्ञाओं की चरम पूर्ति है। नया यरूशलेम परमेश्‍वर की भलाई को पूरी तरह से प्रकट करता है।

नए यरूशलेम के निवासी कौन हैं? पिता और मेम्ने वहाँ हैं (प्रकाशितवाक्य 21:22)। स्वर्गदूत इसके फाटक पर हैं (प्रकाशितवाक्य 21:12)। परन्तु नगर परमेश्‍वर के छुटकारा पाए हुई सन्तान से भरा होगा। नया यरूशलेम दुष्ट बेबीलोन के लिए धार्मिक विपरीतता है (प्रकाशितवाक्य 17), जो परमेश्‍वर के न्याय से नष्ट हो गया था (प्रकाशितवाक्य 18)। दुष्टों के पास उनका नगर था, और परमेश्‍वर के पास अपना है। आप किस नगर से सम्बन्धित हैं? बड़े बेबीलोन या नए यरूशलेम से? यदि आप विश्‍वास करते हैं कि परमेश्‍वर का पुत्र यीशु मर गया और फिर जी उठा और उसने परमेश्‍वर से उसके अनुग्रह से आपको बचाने के लिए कहा है, तो आप नए यरूशलेम के नागरिक हैं। "और मसीह यीशु में [आपको] उसके साथ उठाया, और स्वर्गीय स्थानों में [आपको] उसके साथ बैठाया" (इफिसियों 2:6)। आपके पास "एक अविनाशी, और निर्मल, और अजर मीरास के लिये जो तुम्हारे लिये स्वर्ग में रखी है" (1 पतरस 1:4)। यदि आपने अभी तक अपने उद्धारकर्ता के रूप में मसीह पर भरोसा नहीं किया है, तो हम आपको उसे ग्रहण करने के लिए आग्रह करते हैं। निमन्त्रण बढ़ाया गया है: "आत्मा और दुल्हिन दोनों कहती हैं, "आ!" और सुननेवाला भी कहे, "आ!" जो प्यासा हो वह आए, और जो कोई चाहे वह जीवन का जल सेंतमेंत ले"(प्रकाशितवाक्य 22:17)।

English

w
हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
नया यरूशलेम क्या है?