क्या परमेश्‍वर भविष्य को जानते है?


प्रश्न: क्या परमेश्‍वर भविष्य को जानते है?

उत्तर:
बाइबल सदैव अपनी भविष्यद्वाणी की सामग्री में पूरी तरह से सटीक रही है। उदाहरण के लिए, यह भविष्यद्वाणी कि मसीह का जन्म यहूदिया के बैतलहम में होगा, जैसा कि मीका 5: 2 में बताया गया था। मीका ने 700 ईसा पूर्व अपनी भविष्यद्वाणी को किया था। सात सदियों पश्‍चात् मसीह ने कहाँ जन्म लिया था? यहूदिया के बैतलहम में (लूका 2:1-20; मत्ती 2:1-12)।

विज्ञान बोलता है नामक पुस्तक में पीटर स्टोनर ने दिखाया है कि पवित्र शास्त्र की भविष्यद्वाणी का संयोग के रूप में घटित होने को विज्ञान की सम्भावना से इन्कार किया गया है। मसीह से सम्बन्धित आठ भविष्यद्वाणियों को लेते हुए, स्टोनर ने पाया कि किसी भी एक व्यक्ति ने सभी आठ भविष्यद्वाणियों को पूरा किया, यह 10 के स्थान पर 17 में से 1 की सम्भावना का पूरा होना है। यह 100,000,000,000,000,000 में 1 अवसर होगा। इसमें कोई सन्देह नहीं है कि यीशु ने आठ भविष्यद्वाणियों से अधिक को पूरा किया! इसमें कोई सन्देह नहीं है कि भविष्य के प्रति भविष्यद्वाणी करने में बाइबल पूरी तरह सटीक है।

क्योंकि परमेश्‍वर ही भविष्य के बारे में भविष्यद्वाणी कर सकता है, इसलिए वह निश्‍चित रूप से भविष्य को जानता है। यशायाह ने परमेश्‍वर के बारे में वचनों को लिपिबद्ध किया है: "प्राचीनकाल की बातें स्मरण करो जो आरम्भ ही से हैं, क्योंकि परमेश्‍वर मैं ही हूँ, दूसरा कोई नहीं; मैं ही परमेश्‍वर हूँ और मेरे तुल्य कोई भी नहीं है। मैं तो अन्त की बात आदि से और प्राचीनकाल से उस बात को बताता आया हूँ जो अब तक नहीं हुई। मैं कहता हूँ, 'मेरी युक्‍ति स्थिर रहेगी और मैं अपनी इच्छा को पूरी करूँगा।'" (यशायाह 46:9-10)। ईश्‍वर ही एकमात्र ऐसा व्यक्ति है जो आरम्भ से खड़ा हो सकता है और अन्त को सटीकता के साथ घोषित कर सकता है।

परमेश्‍वर सर्वज्ञानी है; वह सब कुछ को वास्तविकता से और सम्भव तरीके से जानता है। परमेश्‍वर शाश्‍वत भी है (भजन 90:2)। शाश्‍वत, सर्वज्ञानी परमेश्‍वर के रूप में, उसने हमारे आज के दिनों और बीते हुए दिनों और आने वाले दिन, भूतकाल, वर्तमान और भविष्य को पहले से ही व्यतीत कर लिया है। परमेश्‍वर अल्फा और ओमेगा, आरम्भ और अन्त है (प्रकाशितवाक्य 21:6)।

बाइबल में अभी भी बहुत सी भविष्यद्वाणियाँ हैं, जो अपने पूरे होने की प्रतीक्षा कर रही हैं। क्योंकि परमेश्‍वर भविष्य को जानता है, हम अन्ततः पूर्ण होने के लिए सभी भविष्यद्वाणियों पर भरोसा कर सकते हैं। घटनाएँ परमेश्‍वर के पँचांग में उसकी योजना के अनुसार ही घटित हो रही हैं। हम जानते हैं कि भविष्य को किसने थामे हुआ है — बाइबल के एक सच्चे, व्यक्तिगत्, शाश्‍वत और सर्वज्ञानी परमेश्‍वर इसे थामे हुए है।

English


हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
क्या परमेश्‍वर भविष्य को जानते है?