क्या परमेश्वर वास्तव में हमारे पापों को भूल जाता है? एक सर्वज्ञानी परमेश्वर कुछ भी कैसे भूल सकता है?


प्रश्न: क्या परमेश्वर वास्तव में हमारे पापों को भूल जाता है? एक सर्वज्ञानी परमेश्वर कुछ भी कैसे भूल सकता है?

उत्तर:
बाइबल में कई सन्दर्भ ऐसे बताए गए हैं जो यह संकेत देते हैं कि परमेश्वर क्षमा करता है और हमारे पाप को भूल जाता है। यशायाह 43:25 कहता है कि, "मैं, वही हूँ, जो अपने नाम के निमित्त तेरे अपराधों को मिटा देता हूँ और तेरे पापों को स्मरण न करूँगा।" पुराने नियम की बलिदान पद्धति के विपरीत, जिसमें बलिदान पाप के लिए निरन्तर किए जाते थे, सभी के लिए-और-एक ही बार दिए जाने वाले बलिदान, यीशु ने एक बार में ही पाप के लिए दण्ड को चुका दिया है। उसका भुगतान पूरा हो गया है। इब्रानियों 10:14–18 कहता है कि, "क्योंकि उसने एक ही चढ़ावे के द्वारा उन्हें जो पवित्र किए जाते हैं, सर्वदा के लिये सिद्ध कर दिया है। और पवित्र आत्मा भी हमें यही गवाही देता है; क्योंकि उसने पहले कहा था: 'प्रभु कहता है कि जो वाचा मैं उन दिनों के बाद उनसे बाँधूँगा वह यह है कि मैं अपने नियमों को उनके हृदय पर लिखूँगा और मैं उनके विवेक में डालूँगा।' फिर वह यह भी कहता है, 'मैं उनके पापों को और उनके अधर्म के कामों को फिर कभी स्मरण न करूँगा।' और जब इनकी क्षमा हो गई है, तो फिर पाप का बलिदान नहीं रहा।'"

ये वचन स्पष्ट करते हैं कि परमेश्वर हमारे पापों को स्मरण नहीं करता है। यद्यपि, परमेश्वर का "स्मरण नहीं करना" ऐसा नहीं होता कि जिसे हम सामान्य रूप से भूलने की बीमारी समझते हैं। परमेश्वर सर्वज्ञानी है। वह सब कुछ जानता है, और वह कुछ भी नहीं भूलता है। यद्यपि, वह कुछ भी को स्मरण नहीं करने का विकल्प चुन सकता है। मानवीय सम्बन्धों में, हम उन अपराधों को स्मरण रखना चुन सकते हैं जो किसी ने हमारे विरुद्ध किए हैं, या हम उन्हें भूल सकते हैं। किसी को क्षमा करने के लिए, हमें अक्सर दर्दनाक स्मृतियों को अपने मन से बाहर करना चाहिए। हम वास्तव में पाप को नहीं भूलते हैं, और ऐसा नहीं है कि हमारे पास अपराध को स्मरण नहीं रखने की योग्यता नहीं है, परन्तु हम इसे अनदेखा करना चुनते हैं। क्षमा हमें अतीत की परेशानियों को दूर करने से रोकती है।

हमें हमारे पापों के प्रति दिए जाने वाले दण्ड के योग्य मानने की अपेक्षा, परमेश्वर हमारे पापों को "उदयाचल अस्ताचल से जितनी दूर है" — अर्थात् न नापे जाने वाली दूरी — तक हमसे दूर करता है (भजन संहिता 103:12)। पूरे संसार के चारों ओर की जाने वाली यात्रा के बारे में सोचें। कोई पूर्व की ओर जाना बन्द कर देता है और पश्चिम की ओर जाने लगता है? कहना असम्भव है। जब हम बच जाते हैं, तो हमारे पाप पूरी तरह से क्षमा हो जाते हैं। यही वह बात है जिस के बारे में इब्रानियों का लेखक बात कर रहा है — यीशु ने एक बार ही दिए जाने वाले बलिदान को दिया जो हमारे पाप को पूरी तरह से मिटा देता है। मसीह में, हम परमेश्वर के सामने धर्मी (खरे घोषित) किए जाते हैं। रोमियों 8:1 हमें बताता है कि जो मसीह में हैं उनके ऊपर किसी तरह की कोई दण्ड की आज्ञा नहीं है। रोमियों 8:31-39 मसीह में हमारी सुरक्षा के ऊपर एक सुन्दर उपदेश है। परमेश्वर के साथ हमारे खड़े होने में पाप की ओर से बोलने के कुछ नहीं रह जाता है। हम पूरी तरह से स्वीकार किए जाते हैं और उसमें धर्मी घोषित किए जाते हैं। परमेश्वर हमारे पापों को उस तरह से स्मरण नहीं करता है जिस तरह से उसे हमारे साथ इनके प्रति व्यवहार करना चाहिए था। इसकी अपेक्षा, वह हमारे साथ धर्मी के रूप में व्यवहार करता है। दूसरा कुरिन्थियों 5:21 ऐसे कहता है कि, "जो [यीशु] पाप से अज्ञात था, उसी को उसने हमारे लिये पाप ठहराया कि हम उसमें होकर परमेश्‍वर की धार्मिकता बन जाएँ।" इस तरह, परमेश्वर हमारे पापों को "भूल" जाता है।

यहाँ तक कि मसीही विश्वासी के रूप में भी, हम पाप करते हैं, परन्तु हम जानते हैं कि परमेश्वर क्षमा करने में विश्वासयोग्य हैं (1 यूहन्ना 1:9)। परमेश्वर शुद्ध करता है, और फिर वह आगे की ओर बढ़ता है। वह हमारे ऊपर हमारे पापों को नहीं बनाए रखता है। इसकी अपेक्षा, वह हमें पाप की गुलामी से मुक्त करता है और हमें एक नए जीवन का अनुभव करने के लिए स्वतन्त्र करता है। मसीह में परमेश्वर की पूर्ण क्षमा को जानने के बाद, हम हमारे उद्धारक की प्रशंसा करने में राजा हिजकिय्याह के साथ सम्मिलित हो सकते हैं: "क्योंकि मेरे सब पापों को तू ने अपनी पीठ के पीछे फेंक दिया है" (यशायाह 38:17)। पौलुस की तरह, हम भूल सकते हैं कि पीछे क्या है और "जो बातें पीछे रह गई हैं उनको भूल कर, आगे की बातों की ओर बढ़ता हुआ, निशाने की ओर दौड़ा चला जाता हूँ, ताकि वह इनाम पाऊँ जिसके लिये परमेश्‍वर ने मुझे [हमें] मसीह यीशु में ऊपर बुलाया है" (फिलिप्पियों 3:13)।

English


हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
क्या परमेश्वर वास्तव में हमारे पापों को भूल जाता है? एक सर्वज्ञानी परमेश्वर कुछ भी कैसे भूल सकता है?

पता लगाएं कि कैसे ...

भगवान के साथ अनंत काल बिताओ



भगवान से क्षमा प्राप्त करें