क्या यह सम्भव है कि बाइबल में और भी पुस्तकों को जोड़ा जा सकता है?



प्रश्न: क्या यह सम्भव है कि बाइबल में और भी पुस्तकों को जोड़ा जा सकता है?

उत्तर:
विश्‍वास करने के लिए ऐसा कोई कारण नहीं दिखाई देता है कि परमेश्‍वर उसके वचन में जोड़ने के लिए अतिरिक्त प्रकाशन को आगे भी देगा। बाइबल मनुष्य के बनाए जाने की उत्पत्ति से आरम्भ होती है अर्थात् - उत्पत्ति - की पुस्तक से और इसका अन्य मानवजाति के अन्त से जिसे हम - प्रकाशितवाक्य - की पुस्तक के नाम से जानते हैं से होता है। इन दोनों के मध्य में लिखा हुआ सब कुछ विश्‍वासियों की भलाई के लिए, हमारे प्रतिदिन के जीवन को परमेश्‍वर के सत्य के साथ सशक्तिकृत होने के लिए दिया गया है। 2 तीमुथियुस 3:16-17 से हम जानते हैं कि, “सम्पूर्ण पवित्रशास्त्र परमेश्‍वर की प्रेरणा से रचा गया है, और उपदेश, और समझाने और सुधारने और धार्मिकता की शिक्षा के लिए लाभदायक है।"

यदि बाइबल में और अधिक आगे अतिरिक्त पुस्तकों को जोड़ दिया गया, तो ऐसा करना यह करने के बराबर होगा कि आज हमारे पास उपलब्ध बाइबल पूर्ण नहीं है - यह कि यह उस सब को नहीं बताती है जिसे हमें जानने की आवश्यकता है। यद्यपि यह बात केवल प्रकाशितवाक्य की पुस्तक के ऊपर ही परोक्ष रूप में लागू होती है, प्रकाशितवाक्य 22:18-20 हमें परमेश्‍वर के वचन में कुछ भी और अधिक जोड़े जाने के ऊपर एक महत्वपूर्ण सत्य की शिक्षा देता है: "मैं हर एक को, जो इस पुस्तक की भविष्यद्वाणी की बातें सुनता है, गवाही देता हूँ : यदि कोई मनुष्य इन बातों में कुछ बढ़ाए तो परमेश्‍वर उन विपत्तियों को, जो इस पुस्तक में लिखी हैं, उस पर बढ़ाएगा। यदि कोई इस भविष्यद्वाणी की पुस्तक की बातों में से कुछ निकाल डाले, तो परमेश्‍वर उस जीवन के वृक्ष और पवित्र नगर में से, जिसका वर्णन इस पुस्तक में है, उसका भाग निकाल देगा...।"

हमारे पास वह सब कुछ है जो बाइबल में उपलब्ध 66 पुस्तकों में दिया हुआ है। जीवन की कोई भी ऐसी परिस्थिति नहीं छोड़ी गई है जिसे पवित्रशास्त्र के द्वारा सम्बोधित नहीं किया गया है। जो कुछ उत्पत्ति में आरम्भ हुआ वह प्रकाशितवाक्य में अपने अन्त को पाता है। बाइबल सम्पूर्ण रीति से पूर्ण और पर्याप्त है। क्या परमेश्‍वर बाइबल के साथ कुछ जोड़ सकता है? कोई सन्देह नहीं कि वह ऐसा कर सकता है। तथापि, ऐसा कोई कारण, चाहे वह बाइबल आधारित हो या फिर धर्मवैज्ञानिक ही क्यों न हो, हमें विश्‍वास करने के लिए नहीं मिलता है कि वह ऐसा करेगा, या उसे ऐसा करने के लिए किसी बात की आवश्यकता है।



हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए



क्या यह सम्भव है कि बाइबल में और भी पुस्तकों को जोड़ा जा सकता है?