स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान क्या है?


प्रश्न: स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान क्या है?

उत्तर:
देवदूत-शास्त्र या स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान स्वर्गदूतों का अध्ययन करता है। आज के समय में स्वर्गदूतों के विषय में कई बाइबल रहित दृष्टिकोण पाए जाते हैं। कुछ विश्‍वास करते हैं कि स्वर्गदूत वे मनुष्य हैं, जो मर गए हैं। दूसरे यह मानते हैं कि स्वर्गदूतों सामर्थ्य के अवैयक्तिक स्रोत हैं। तौभी, कुछ अन्य लोग स्वर्गदूतों के अस्तित्व को पूरी तरह से होने का ही इन्कार कर देते हैं। स्वर्गदूतों के सम्बन्धी विज्ञान के प्रति बाइबल आधारित एक सही समझ ही इन झूठी मान्यताओं को सही कर सकती है। स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान हमें वह बताता है, जिसे बाइबल स्वर्गदूतों के बारे में बताती है। यह इस बात का अध्ययन है कि कैसे स्वर्गदूत मनुष्य के साथ सम्बन्ध स्थापित करते और परमेश्‍वर के उद्देश्यों को पूरा करते हैं। यहाँ पर स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान से सम्बन्धित कुछ महत्वपूर्ण विषयों को दिया गया है:

स्वर्गदूतों के बारे में बाइबल क्या कहती है? स्वर्गदूत पूरी तरह से मनुष्यों से भिन्न हैं। मनुष्य मरने के पश्चात् स्वर्गदूतों में परिवर्तित नहीं होते हैं। स्वर्गदूत कभी भी न तो थे, और न ही मनुष्य बनेंगे। परमेश्‍वर ने स्वर्गदूतों को वैसे ही रचा है, जैसे उसने मनुष्यों को रचा है।

स्वर्गदूत स्त्री या पुरूष क्या हैं? बाइबल स्वर्गदूतों के लिंग को पुरूष या स्त्री के होने में अनिवार्य रूप से समर्थन नहीं देती है। जब कभी भी पवित्र शास्त्र में एक स्वर्गदूत के लिए लिंग को "ठहराया" गया है, तो यह पुरूष ही रहा है (उत्पत्ति 19:10,12; प्रकाशितवाक्य 7:2; 8:3; 10:7), और स्वर्गदूतों को केवल जिब्राएल और मीकाईल के नाम ही दिए गए हैं, जो सामान्य रूप से पुरूषवाचक नाम के रूप में माने जाते हैं।

क्या हमारे लिए संरक्षक स्वर्गदूत होते हैं? इसमें कोई सन्देह नहीं है कि अच्छे स्वर्गदूत मसीही विश्‍वासियों की सुरक्षा करते, सूचना को प्रगट करते, लोगों को मार्गदर्शन देते, और सामान्य रूप से, परमेश्‍वर की सन्तान की सेवा करते हैं। कठिन प्रश्‍न यह है क्या प्रत्येक व्यक्ति या हरेक मसीही विश्‍वासी के लिए एक नियुक्त किया हुआ स्वर्गदूत होता है।

प्रभु का स्वर्गदूत कौन/क्या है? "प्रभु के स्वर्गदूत" की सटीक पहचान बाइबल में नहीं दी हुई है। तथापि, उसकी पहचान के कई महत्वपूर्ण "सुराग" दिए गए हैं।

करूब क्या हैं? क्या करूब स्वर्गदूत हैं? करूबीम/करूब ऐसे स्वर्गीय प्राणी हैं, जो परमेश्‍वर की स्तुति और आराधना में सम्मिलित हैं। परमेश्‍वर की स्तुति के अतिरिक्त, वे साथ ही परमेश्‍वर के वैभव और महिमा और उसके लोगों के साथ उसकी बनी रहने वाली उपस्थिति को स्मरण दिलाने वाले के रूप में सेवा करते हैं।

साराप क्या हैं? क्या साराप स्वर्गदूत हैं? यशायाह अध्याय 6 ही बाइबल में एकमात्र ऐसा स्थान है, जहाँ पर विशेष रूप से सारापों का उल्लेख मिलता है। साराप ("तेज से भरपूर") ऐसे स्वर्गीय प्राणी हैं, जो भविष्यद्वक्ता यशायाह के दर्शन में परमेश्‍वर के मन्दिर से सम्बन्धित हैं।

स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान हमें स्वर्गदूतों के प्रति परमेश्‍वर के दृष्टिकोण को प्रदान करता है। स्वर्गदूत ऐसे व्यक्तित्व रखने वाले प्राणी हैं, जो परमेश्‍वर की आराधना करते और उसकी आज्ञा का पालन करते हैं। कई बार परमेश्‍वर स्वर्गदूतों को मानवीय जीवन चक्र में "हस्तक्षेप" करने के लिए भेजता है। स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान हमें उस युद्ध की पहचान करने में सहायता प्रदान करता है, जो परमेश्‍वर के स्वर्गदूतों और शैतान उसकी दुष्टात्माओं मध्य में विद्यमान है। स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान की एक सही समझ होना अति महत्वपूर्ण है। जब हम यह समझ जाते हैं कि स्वर्गदूत, ठीक हमारी ही तरह, से रचे हुए प्राणी हैं, हमें साकार हो जाता है कि स्वर्गदूतों की आराधना करना और उनसे प्रार्थना करना परमेश्‍वर की महिमा की चोरी करना है, जो कि केवल उसी से ही सम्बन्धित है। यह स्वर्गदूत नहीं, अपितु परमेश्‍वर था, जिसने उसके पुत्र को हमारे लिए मरने के लिए भेजा था, जो हमें प्रेम करता और जिसे हमारा ध्यान है, और केवल वही हमारी भक्ति को प्राप्त करने के योग्य है।

स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान के लिए एक मुख्य वचन इब्रानियों 1:14 है, "क्या वे सब सेवा टहल करनेवाली आत्माएँ नहीं, जो उद्धार पानेवालों के लिये सेवा करने को भेजी जाती हैं?"

English
हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
स्वर्गदूत सम्बन्धी विज्ञान क्या है?