अबद्दोन/अपुल्लयोन कौन या क्या है?


प्रश्न: अबद्दोन/अपुल्लयोन कौन या क्या है?

उत्तर:
प्रकाशितवाक्य 9:11 में अबद्दोन या अपुल्लयोन का नाम प्रकट होता है: "उनके अथाह कुण्ड का दूत उन पर राजा था, उसका नाम इब्रानी में अबद्दोन, और यूनानी में अपुल्लयोन है।" इब्रानी में, अबद्दोन का अर्थ "विनाश का स्थान" है; यूनानी शीर्षक "अपुल्लयोन" का शाब्दिक अर्थ "विनाश करने वाला" है।

प्रकाशितवाक्य 8-9 में, यूहन्ना अन्त के समय की एक अवधि का वर्णन करता है, जब स्वर्गदूत सात तुरहियों को फूँकेंगे, जो पृथ्वी के लोगों पर सात भिन्न न्यायों के आने का संकेत देती हैं। जब पाँचवां स्वर्गदूत अपनी तुरही को फूँकता है, तो अथाह कुण्ड खुल जाता है, और वहाँ से निकलते हुए धुएँ में से पृथ्वी पर शैतानिक "टिड्डियों" की भीड़ निकल आएगी (प्रकाशितवाक्य 9:1-3)। इन प्राणियों को किसी भी व्यक्ति को यातना देने की सामर्थ्य दी जाएगी जिस पर परमेश्‍वर की मुहर नहीं लगी हुई है (वचन 4)। वे जिस पीड़ा को उन पर उण्डेलते हैं, वह इतनी तीव्र होगी कि पीड़ित मरना चाहेंगे, परन्तु मृत्यु उन्हें अस्वीकार कर देगी (वचन 6)। अबद्दोन/अपुल्लयोन अथाह कुण्ड का शासक और इन शैतानिक टिड्डियों का राजा है।

अबद्दोन/अपुल्लयोन अक्सर शैतान के लिए उपयोग होने वाला एक दूसरा नाम है। यद्यपि, पवित्रशास्त्र शैतान को अपुल्लयोन से अलग करता हुआ प्रतीत होता है। हम शैतान को बाद में प्रकाशितवाक्य में पाते हैं, जब वह 1000 वर्षों तक अथाह कुण्ड में कैद कर दिया जाता है (प्रकाशितवाक्य 20:1-3)। उसके बाद उसे पृथ्वी पर विनाश को लाने के लिए छोड़ दिया जाता है (वचन 7-8) और अन्ततः वह अपने अन्तिम, शाश्‍वतकालीन दण्ड को प्राप्त करता है (वचन 10)। अबद्दोन/अपुल्लयोन कदाचित् इफिसियों 6:12 में बताए गए शैतान के अधीनस्थ काम करने वालों में से एक है, जो कि एक विनाश करने वाली दुष्टात्मा और "शासक," "अधिकारी" और "शक्ति" में से एक है।

जॉन बनियन अपनी उत्कृष्ट रूपकात्मक पुस्तक यात्रा स्वप्नोदय या मसीही मुसाफिर में एक स्मरण रखने वाले दृश्य को सम्मिलित करता है, जिसमें मसीही नामक व्यक्ति अपुल्लयोन नामक एक शैतानिक राक्षस के साथ लड़ाई करता है। अपने नाम के अनुसार यह सच है कि अपुल्लयोन मसीही को लगभग नष्ट कर देता है। मसीही अपनी ढाल से उसके आक्रमण को रोकता है और अपनी तलवार के झुकाव उसे पीछे हटाने के लिए मजबूर कर देता है। बनियन का "अपुल्लयोन" हमारे आत्मिक शत्रु का एक प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व है, परन्तु उसका चरित्र हमारी प्रेरणा के लिए शाब्दिक है। प्रकाशितवाक्य का अबद्दोन/अपुल्लयोन एक वास्तविक व्यक्ति है, जो एक दिन परमेश्‍वर के न्याय के समय लोगों के ऊपर पीड़ा को उण्डेल देगा।

English


हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
अबद्दोन/अपुल्लयोन कौन या क्या है?