पुराने नियम में मसीह के लिए कहाँ भविष्यद्वाणी की गई है?



प्रश्न: पुराने नियम में मसीह के लिए कहाँ भविष्यद्वाणी की गई है?

उत्तर:
पुराने नियम के यीशु मसीह के बारे में बहुत सी भविष्यद्वाणियाँ की गई हैं। कुछ व्याख्याकार प्रतिज्ञा किए हुए मसीह के प्रति की गई भविष्यद्वाणियों को हजारों की गिनती में बताते हैं। नीचे कुछ ऐसी भविष्यद्वाणियाँ दी गई हैं जिन्हें सबसे महत्वपूर्ण और स्पष्ट माना जाता है।

यीशु के जन्म के सम्बन्ध में - यशायाह 7:14: "इस कारण प्रभु आप ही तुम को एक चिन्ह देगा। सुनो, एक कुमारी गर्भवती होगी और पुत्र जनेगी, और उसका नाम इम्मानुएल रखेगी।" यशायाह 9:6: "क्योंकि हमारे लिये एक बालक उत्पन्न हुआ, हमें एक पुत्र दिया गया है; और प्रभुता उसके काँधे पर होगी, और उसका नाम अद्भुत युक्ति करनेवाला, पराक्रमी परमेश्‍वर, अनन्तकाल का पिता, और शान्ति का राजकुमार रखा जाएगा।" मीका 5:2: “हे बैतलहम एप्राता, यदि तू ऐसा छोटा है कि यहूदा के हजारों में गिना नहीं जाता, तौभी तुझ में से मेरे लिये एक पुरूष निकलेगा, जो इस्राएलियों में प्रभुता करनेवाला होगा; और उसका निकलना प्राचीनकाल से, वरन् अनादिकाल से होता आया है।"

यीशु की सेवकाई और मृत्यु के सम्बन्ध में - जकर्याह 9:9: “हे सिय्योन बहुत ही मगन हो। हे यरूशलेम जयजयकार कर! क्योंकि तेरा राजा तेरा पास आएगा; वह धर्मी और उद्धार पाया हुआ है, वह दीन है, और गदहे पर वरन् गदही के बच्चे पर चढ़ा हुआ है आएगा।" भजन संहिता 22:16-18: “क्योंकि कुत्तों ने मुझे घेर लिया है; कुकर्मियों की मण्डली मेरे चारों ओर मुझे घेरे हुए है; वे मेरे हाथ और मेरे पैर छेदते हैं। मैं अपनी सब हड्डियाँ गिन सकता हूँ; वे मुझे देखते और निहारते हैं। वे मेरे वस्त्र आपस में बाँटते हैं, और मेरे पहिरावे पर चिठ्ठी डालते हैं।"

इसी तरह की यीशु के बारे में सबसे स्पष्ट भविष्यद्वाणी यशायाह का पूरा 53वां अध्याय है। यशायाह 53:3-7 विशेषरूप से अचूक है: "वह तुच्छ जाना जाता और मनुष्यों का त्यागा हुआ था; वह दु:खी पुरूष था, रोग से उसकी जान पहिचान थी; और लोग उस से मुख फेर लेते थे। वह तुच्छ जाना गया, और, हम ने उसका मूल्य न जाना।। निश्चय उसने हमारे रोगों को सह लिया और हमारे ही दु:खों को उठा लिया; तौभी हम ने उसे परमेश्‍वर का मारा-कूटा और दुर्दशा में पड़ा हुआ समझा। परन्तु वह हमारे ही अपराधों के कारण घायल किया गया, वह हमारे अधर्म के कामों के हेतु कुचला गया; हमारी ही शान्ति के लिये उस पर ताड़ना पड़ी कि उसके कोड़े खाने से हम चंगे हो जाएँ। हम तो सब के सब भेड़ों की समान भटक गए थे; हम में से हर एक ने अपना अपना मार्ग लिया; और यहोवा ने हम सभों के अधर्म का बोझ उसी पर लाद दिया।। वह सताया गया, तौभी वह सहता रहा और अपना मुँह न खोला; जिस प्रकार भेड़ वध होने के समय और भेड़ी ऊन कतरने के समय चुपचाप शान्त रहती है, वैसे ही उस ने भी अपना मुँह न खोला।"

दानिय्येल अध्याय 9 में भविष्यद्वाणी किए हुए "सत्तर सप्ताह" उस सटीक तिथि को देते हैं कि यीशु, जो मसीह है, "काट दिया" जाएगा। यशायाह 50:6 यीशु के द्वारा मार खाए जाने का सही सही वर्णन देता है। जकर्याह 12:10 मसीह के पंजर के "छेदे" जाने की भविष्यद्वाणी करता है, जो यीशु के क्रूस के ऊपर मरने के पश्चात् घटित हुआ। और भी बहुत से उदाहरण मिलते हैं परन्तु इतने ही पर्याप्त हैं। पुराना नियम बड़ी दृढ़ता के साथ यीशु के मसीह के रूप में आने की भविष्द्वाणियाँ करता है।



हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए



पुराने नियम में मसीह के लिए कहाँ भविष्यद्वाणी की गई है?