क्या यीशु सृष्टिकर्ता है?


प्रश्न: क्या यीशु सृष्टिकर्ता है?

उत्तर:
उत्पत्ति 1:1 कहता है कि "परमेश्वर ने आकाश और पृथ्वी की सृष्टि की।" इसके बाद, कुलुस्सियों 1:16 में यह वर्णन जोड़ा गया है कि यीशु मसीह के द्वारा परमेश्वर ने "सभी वस्तुओं" की सृष्टि की है। इसलिए, पवित्रशास्त्र की स्पष्ट शिक्षा यह है कि यीशु ब्रह्माण्ड का सृष्टिकर्ता है।

त्रिएक परमेश्वर का रहस्य समझना कठिन है, तौभी यह पवित्रशास्त्र में प्रकट धर्मसिद्धान्तों में से एक है। बाइबल में, पिता परमेश्वर और यीशु दोनों ही को चरवाहा, न्यायी और उद्धारकर्ता कहा गया है। दोनों को एक ही वचन में — बेधा हुए कहा गया है (जकर्याह 12:10)। मसीह परमेश्वर के पिता का सटीक प्रतिनिधित्व, एक ही स्वभाव का है (इब्रानियों 1:3)। कुछ अर्थ में जो कुछ पिता करता है, वह पुत्र और आत्मा भी करते हैं, और ऐसा ही इसके विपरीत भी है। वे सदैव प्रत्येक क्षण सिद्ध सहमति में होते हैं, और तीनों अपने तुल्य रूप में एक ही परमेश्वर हैं (व्यवस्थाविवरण 6:4)। यह जानते हुए कि मसीह परमेश्वर है और हमारे सृष्टिकर्ता के रूप में परमेश्वर के सारे गुणों का उसमें होना यीशु के सृष्टिकर्ता होने के प्रति हमारी समझ को सहायता प्रदान करता है।

"आदि में वचन था, और वचन परमेश्‍वर के साथ था, और वचन परमेश्‍वर था" (यूहन्ना 1:1)। यीशु और पिता के बारे में इस वचन में तीन महत्वपूर्ण बातें पाई जाती हैं: 1) यीशु "आदि में" था — वह सृष्टि के समय विद्यमान था। यीशु परमेश्वर के साथ अनन्त काल से अस्तित्व में है। 2) यीशु पिता से भिन्न है — वह परमेश्वर "के साथ" था। 3) यीशु अपने स्वभाव में परमेश्वर के समान है — वह "परमेश्वर था।"

इब्रानियों 1:2 में कहा गया है कि, "इन अन्तिम दिनों में हम से पुत्र के द्वारा बातें कीं, जिसे उसने सारी वस्तुओं का वारिस ठहराया और उसी के द्वारा उसने सारी सृष्‍टि की रचना की है।" मसीह परमेश्वर की रचना का मध्यस्थ है; संसार उसी "के द्वारा" रचा गया था। पिता और पुत्र के सृष्टि के कार्य में दो भिन्न भूमिकाएँ थीं, तौभी उन्होंने ब्रह्माण्ड को एक साथ लाने में एक साथ काम किया। यूहन्ना कहते हैं, "सब कुछ उसी [यीशु] के द्वारा उत्पन्न हुआ, और जो कुछ उत्पन्न हुआ है उसमें से कोई भी वस्तु उसके [यीशु] बिना उत्पन्न नहीं हुई" (यूहन्ना 1:3)। प्रेरित पौलुस ने दोहराया है कि: "तौभी हमारे लिये तो एक ही परमेश्‍वर है, अर्थात् पिता जिसकी ओर से सब वस्तुएँ हैं, और हम उसी के लिये हैं। और एक ही प्रभु है, अर्थात् यीशु मसीह जिसके द्वारा सब वस्तुएँ हुईं, और हम भी उसी के द्वारा हैं" (1 कुरिन्थियों 8:6)।

त्रिएकत्व का तीसरा व्यक्ति, पवित्र आत्मा भी, सृष्टि में एक मध्यस्थ है (उत्पत्ति 1:2)। चूँकि "आत्मा" के लिए इब्रानी शब्द का अनुवाद अक्सर "हवा" या "श्वास" के रूप में किया जाता है, इसलिए हम त्रिएकत्व के सभी तीन व्यक्तियों की गतिविधि को एक वचन में देख सकते हैं: "आकाशमण्डल यहोवा के वचन से, और उसके सारे गण उसके मुँह की श्‍वास से बने" (भजन संहिता 33:6)। पवित्रशास्त्र के गहन अध्ययन के बाद, हम यह निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि पिता परमेश्वर सृष्टिकर्ता है (भजन संहिता 102:25), और उसने यीशु, परमेश्वर पुत्र के माध्यम से सृष्टि की है (इब्रानियों 1:2)।

English


हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
क्या यीशु सृष्टिकर्ता है?

पता लगाएं कि कैसे ...

भगवान के साथ अनंत काल बिताओ



भगवान से क्षमा प्राप्त करें