क्या परमेश्‍वर बड़े पापों को क्षमा करता है? क्या परमेश्‍वर एक हत्यारे को क्षमा करेगा?


प्रश्न: क्या परमेश्‍वर बड़े पापों को क्षमा करता है? क्या परमेश्‍वर एक हत्यारे को क्षमा करेगा?

उत्तर:
बहुत से लोग इस गलती को करते हुए यह विश्‍वास करते हैं कि परमेश्‍वर "छोटे" पापों को जैसे झूठ बोलना, क्रोधित होना, और अशुद्ध विचारों को ही क्षमा करता है, परन्तु वह "बड़े" पापों को हत्या और व्यभिचार इत्यादि को क्षमा नहीं करता है। यह सत्य नहीं है। ऐसा कोई भी बड़ा पाप नहीं है जिसे परमेश्‍वर क्षमा नहीं सकता है। जब यीशु की मृत्यु क्रूस पर हुई, तब उसने पूरे संसार के सारे पापों के दण्ड को चुका दिया है (1 यूहन्ना 2:2)। जब एक व्यक्ति अपने विश्‍वास को उद्धार के लिए यीशु मसीह में रखता है, तब उसके सारे पाप क्षमा हो जाते हैं। उसमें अतीत, वर्तमान और भविष्यकाल के बड़े और छोटे सारे पाप सम्मिलित हैं। यीशु हमारे सारे पापों के दण्ड को चुकाने के लिए मर गया, और एक बार जब वे क्षमा कर दिए जाते हैं, तब वे क्षमा कर दिए जाते हैं (कुलुस्सियों 1:14; प्रेरितों के काम 10:43)।

हम सभी पाप के दोषी हैं (रोमियों 3:23) और शाश्‍वतकालीन दण्ड के योग्य हैं (रोमियों 6:23)। यीशु हमारे लिए हमारे दण्ड को चुकाने के लिए मर गया (रोमियों 5:8)। कोई भी जो उद्धार के लिए यीशु मसीह में विश्‍वास करते है, वह क्षमा को प्राप्त करता है, चाहे उसने कैसे भी पाप क्यों न किए हों (यूहन्ना 3:16)। अब, एक हत्यारा या व्यभिचार करने वाला व्यक्ति तौभी अपने बुरे कार्यों के लिए गम्भीर परिणाम (वैधानिक, सम्बन्धपरक इत्यादि) का सामना उससे कहीं ज्यादा कर सकता है, जो "केवल" एक झूठा व्यक्ति था। परन्तु एक हत्यारे या एक व्यभिचारी के पाप उसी क्षण पूरी तरह से और स्थाई रूप से क्षमा कर दिए जाते हैं, जब अपने विश्‍वास को यीशु पर करता है और इसे उसमें रखता है।

यह पाप का आकार नहीं है, जो यहाँ पर निर्धारण करने वाला तथ्य है; अपितु यह मसीह का प्रायश्चित वाले बलिदान का आकार है। यदि पापरहित परमेश्‍वर के मेम्ने का बहाया हुआ लहू लाखों लोगों के पापों को ढकने के लिए पर्याप्त है, जिन्होंने उसके ऊपर विश्‍वास किया है, तब तो यहाँ पर पापों का कोई भी आकार या प्रकार की सीमा नहीं है, जिसे वह ढक नहीं सकता है। जब उसने यह कहा, "पूरा हुआ," तब पाप का अन्त हो गया था, पूर्ण प्रायश्चित और इसके लिए सन्तुष्टि को दे दिया गया था, पूर्ण क्षमा को प्राप्त कर लिया गया था, शान्ति को स्थापित कर दिया गया था और सारे पापों से छुटकारे को प्राप्त कर लिया गया था। उद्धार निश्चित और पक्का और पूर्ण था; और कुछ करने की आवश्यकता नहीं थी, या हो सकती थी, या इसमें जोड़ा जाना था। इसके अतिरिक्त, मसीह का बचाने वाला पूर्ण रीति से मनुष्य की सहायता के बिना किया गया और इसे नष्ट नहीं किया जा सकता है।

English
हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
क्या परमेश्‍वर बड़े पापों को क्षमा करता है? क्या परमेश्‍वर एक हत्यारे को क्षमा करेगा?