क्या परमेश्‍वर ने आदम और हव्वा के अतिरिक्त अन्य लोगों को भी सृष्टि की है?


प्रश्न: क्या परमेश्‍वर ने आदम और हव्वा के अतिरिक्त अन्य लोगों को भी सृष्टि की है?

उत्तर:
बाइबल में ऐसे कोई संकेत नहीं मिलता है कि परमेश्‍वर ने आदम और हव्वा के अतिरिक्त अन्य लोगों की सृष्टि की थी। उत्पत्ति 2 में हम पढ़ते हैं कि, "आकाश और पृथ्वी की उत्पत्ति का वृत्तान्त यह है कि जब वे उत्पन्न हुए अर्थात् जिस दिन यहोवा परमेश्‍वर ने पृथ्वी और आकाश को बनाया: तब मैदान का कोई पौधा भूमि पर न था, और न मैदान का कोई छोटा पेड़ उगा था, क्योंकि यहोवा परमेश्‍वर ने पृथ्वी पर जल नहीं बरसाया था, और भूमि पर खेती करने के लिये मनुष्य भी नहीं था; तौभी कुहरा पृथ्वी से उठता था जिस से सारी भूमि सिंच जाती थी। तब यहोवा परमेश्‍वर ने आदम को भूमि की मिट्टी से रचा और उसके नथनो में जीवन का श्‍वास फूँक दिया; और आदम जीवित प्राणी बन गया। और यहोवा परमेश्‍वर ने पूर्व की ओर अदन देश में एक वाटिका लगाई; और वहाँ आदम को जिसे उस ने रचा था, रख दिया... फिर यहोवा परमेश्‍वर ने कहा, 'आदम का अकेला रहना अच्छा नहीं; मै उसके लिये एक ऐसा सहायक बनाऊँगा जो उस से मेल खाए'...तब यहोवा परमेश्‍वर ने आदम को भारी नींद में डाल दिया, और जब वह सो गया तब उस ने उसकी एक पसली निकालकर उसकी जगह मांस भर दिया। और यहोवा परमेश्‍वर ने उस पसली को जो उस ने आदम में से निकाली थी, स्त्री बना दिया; और उसको आदम के पास ले आया" 2:4-8, 18, 21-22)।

ध्यान दें, यह सन्दर्भ ऐसा कहता है, "वहाँ आदम को जिसे उसने रचा था, रख दिया।" "लोग" नहीं अपितु केवल एक "व्यक्ति" को रखा। और यह व्यक्ति अकेला था (वचन 18) इसलिए उसने उसके साथ रहने के लिए उसकी पसली में से एक स्त्री को बना दिया। अन्य सभी मनुष्य इन दो मूल प्राणियों से ही आए हैं।

English
हिन्दी के मुख्य पृष्ठ पर वापस जाइए
क्या परमेश्‍वर ने आदम और हव्वा के अतिरिक्त अन्य लोगों को भी सृष्टि की है?